FeaturedJamshedpurJharkhand

सामाजिक संस्था नाम्या स्माइल फाउंडेशन के निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर के पहले दिन उमड़े लोग

अपोलो अस्पताल के अनुभवी चिकित्सकों ने की ग्यारह सौ से अधिक लोगों की जांच, चिकित्सकीय परामर्श के साथ मिली दवाइयां, कोरोना वारियर्स को हुए सम्मानित

हड्डी रोग, नेत्र विशेषज्ञ, चर्म रोग, स्त्री एवं प्रसूति, हृदय रोग, न्यूरो सर्जरी, कान गला एवं नाक, शिशु रोग, हड्डी रोग, फिजियोथेरेपी, एक्स-रे, मधुमेह, ईसीजी, ईसीएचओ की हुई निःशुल्क जाँच।

बोले अपोलो अस्पताल के निदेशक आलोक श्रीवास्तव, प्रशासनिक स्तर पर मिले सहयोग तो जमशेदपुर में बनाएंगे अत्याधुनिक अस्पताल।

बोले कोल्हान आयुक्त मनोज कुमार, अपोलो अस्पताल अगर पहल करती है तो हरसंभव करेंगे प्रशासनिक सहयोग

जमशेदपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर देशव्यापी ‘सेवा पखवाड़ा’ के तहत शहर की प्रतिष्ठित सामाजिक संस्था नाम्या स्माइल फाउंडेशन एवं अपोलो अस्पताल, भुवनेश्वर के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को दो दिवसीय निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का शुभारंभ हुआ। सिदगोड़ा स्थित सोन मंडप परिसर में आयोजित जांच शिविर का विधिवत शुभारंभ कोल्हान प्रमंडल के आयुक्त मनोज कुमार, जुस्को के प्रबंध निदेशक ऋतुराज सिन्हा, अपोलो अस्पताल के निदेशक आलोक श्रीवास्तव समेत संस्था के संस्थापक सह पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्वलित कर किया। सुबह 9 बजे से संध्या 5 बजे तक चले शिविर में जाँच हेतु आसपास के बस्ती क्षेत्रों के लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। आयोजन स्थल पर नागरिकों के सुविधा हेतु अलग-अलग काउंटर पर अलग-अलग बीमारियों के जाँच की व्यवस्था की गई थी। शिविर में जहां लोगों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण किया गया, वहीं उन्हें आवश्यकतानुसार जरूरी दवाएं भी प्रदान की गईं। चिकित्सकों ने लोगों को परामर्श एवं स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करते हुए मौसम बदलने के साथ स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतने संबंधी निर्देश दिए। चिकित्सकों ने पानी को उबाल कर ही पीने के साथ ताजा भोजन करने की अपील की। शिविर में अपोलो अस्पताल के मेडिसिन, सर्जरी, हड्डी रोग, नेत्र विशेषज्ञ, चर्म रोग, स्त्री एवं प्रसूति, हृदय रोग, न्यूरो सर्जरी, कान गला एवं नाक, शिशु रोग विशेषज्ञ, हड्डी रोग, एक्स-रे, फिजियोथेरेपी, मधुमेह, ईसीजी, ईसीएचओ के विशेषज्ञ डॉक्टर ने लोगों की जांच की। इससे पहले, सभी अतिथियों को पुष्पगुच्छ, अंगवस्त्र एवं नाम्या की किट भेंटकर स्वागत किया गया।

शिविर में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद कोल्हान प्रमंडल के आयुक्त मनोज कुमार ने संस्था नाम्या स्माइल फाउंडेशन के कार्यों एवं प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि स्वास्थ्य ही सबसे उत्तम धन है। यदि हमारा स्वास्थ्य अच्छा है तो जीवन का आनंद ले सकते हैं और समाज में रचनात्मक कार्य कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन आज के समय में बहुत आवश्यक है, जिस प्रकार से चिकित्सा सेवा मंहगी हुई है उसको ध्यान में रखकर संस्थापक कुणाल षाड़ंगी का यह प्रयास सराहनीय है। कोल्हान आयुक्त मनोज कुमार ने अपोलो अस्पताल के सबंध में बड़ी बात कहते हुए कहा कि अस्पताल प्रबंधन के पहल पर जमशेदपुर शहर में अस्पताल के लिए प्रसाशनिक स्तर पर सभी जरूरी सहयोग करने को तैयार है।

विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित अपोलो अस्पताल के निदेशक आलोक श्रीवास्तव ने कहा कि जमशेदपुर शहर में लोगों को अत्याधुनिक स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने हेतु एक अत्याधुनिक अस्पताल बनाने की मंशा है। अगर शासन-प्रशासन का सहयोग मिलेगा तो लौहनगरीवासियों के लिए एक अत्याधुनिक स्वास्थ्य सुविधाओं से लैश अस्पताल खोलेंगे।

वहीं, विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए जुस्को के प्रबंध निदेशक ऋतुराज सिन्हा ने कहा कि आज के बदलते मौसम में उपचार से अधिक बचाव अधिक महत्वपूर्ण है। लोग बीमारियों के गंभीर होने का इंतेजार करते हैं। अगर हम स्वास्थ्य के प्रति सजग और सावधान रहें और समय से स्वास्थ्य की जांच की जाए तो कई गंभीर बीमारियों और महंगे इलाज से बचा जा सकता है। ऋतुराज सिन्हा ने टाटा स्टील की ओर से संस्था नाम्या स्माइल फाउंडेशन के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि संस्था द्वारा कई सामाजिक कार्यों के जरिये जरूरतमंद लोगों की सेवा निरंतर की जाती है। जो अन्य लोगों को भी प्रेरित करती है। कहा कि ऐसे सार्वजनिक शिविर के आयोजन से अस्पतालों पर भी दवाब कम होता है।

संस्था के संस्थापक सह पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी ने कहा कि पहली बार जमशेदपुर में विख्यात अस्पताल अपोलो के अनुभवी डॉक्टरों द्वारा लोगों की जाँच की गई। यह स्वास्थ्य जांच शिविर शहर के बस्तीवासियों को समर्पित है। उन्होंने कहा कि शिविर में दर्जनों डॉक्टर जिनसे गरीब जरूरतमंद लोग महंगी फ़ीस के कारण इलाज एवं परामर्श नही ले सकते हैं। वैसे हजारों लोगों ने शिविर में पहले दिन आकर स्वास्थ्य लाभ लिया। उन्होंने कहा कि अस्पताल एवं प्रशासनिक स्तर पर अस्पताल खुलने संबंधी प्रस्ताव का वे खुले मन से स्वागत करते हैं। मेरा प्रयास है कि शहरवासियों के स्वास्थ्य सुविधा हेतु एक अत्याधुनिक अस्पताल शहर में शीघ्र बने। कुणाल षाड़ंगी ने लोगों से स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने की अपील की। कहा कि लोगों को अपनी स्वास्थ्य के प्रति हमेशा सजग रहना चाहिए। क्योंकि समय पर छोटी बीमारियों का इलाज नहीं होने पर भी बीमारी गंभीर हो जाती है। पैसे के अभाव में लोग समय पर छोटी बीमारियों का इलाज नहीं करा पाते हैं। जिसके कारण आगे चलकर काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए दो दिवसीय निःशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया है।

आयुष्मान कार्ड के लिए बने थे काउंटर: शिविर में आयुष्मान भारत के तहत लोगों को गोल्डन कार्ड बनाने के लिए प्रेरित किया गया। इस दौरान दर्जनों लोगों का गोल्डन कार्ड बनाया गया। आयुष्मान कार्ड के माध्यम से लोग किसी भी पंजीकृत अस्पताल में स्वास्थय सेवा प्राप्त कर सकते है। केंद्र सरकार की ओर से गोल्डन कार्डधारी परिवार को प्रत्येक वर्ष पांच लाख रूपये तक के इलाज की मुफ्त सुविधा मिलती है।

चिकित्सक ने कहा
हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ सत्येंद्र मोहंती ने कहा कि गठिया, जोड़ों के दर्द आदि का बड़ा कारण गलत तरीके के उठने-बैठने से एवं अनियमित दिनचर्या के साथ गलत खान पान है। हम नियमित रूप से व्यायाम एवं फिजियोथैरेपी से ऐसी बीमारियों से बच सकते हैं। इसके साथ ही उन्होने कहा कि हड्डियां और जोड़ ही हमारे शरीर का आधार है। हमें इनका विशेष ध्यान रखना चाहिए। बढ़ती उम्र के साथ कैल्शियम और विटामिन डी हड्डियों के लिए बहुत लाभकारी है।

इन डॉक्टरों ने की जांच:
डॉ पीके साहू (न्यूरो सर्जरी) डॉ पल्लवी दास (ओबीएस एंड गयनेकोलॉजिस्ट), डॉ आशुतोष पटनायक (ऑन्कोलॉजी), डॉ अमृतांश गुप्ता (मेडिसिन), डॉ सत्येंद्र मोहंती (ऑर्थोपेडिक), डॉ सुभाशीष दास (कार्डियोलॉजी), डॉक्टर निहार साहू (डेंटल सर्जन) व अन्य।

कोरोना वारियर्स को संस्था ने किया सम्मानित:
वैश्विक महामारी कोरोना त्रासदी के बीच अपने कर्तव्य पर डट मानवता की सेवा करने वाले एएनएम एवं सीएचओ को अंगवस्त्र एवं उपहार भेंटकर सम्मानित करते हुए आभार जताया गया। जिनमें नविता कुमारी (सीएचओ), श्रीति कुमारी (सीएचओ), रोजलिन केरकेट्टा (सीएचओ), जया महतो (सीएचओ), अंजना कुमारी (एएनएम), रेणु कुमारी (एएनएम), लुक्खी मुर्मु (एएनएम), कृष्णा पोद्दार (एएनएम), सुश्री पूनम कुमारी (एएनएम), सुमेश्वरी कुमारी (एएनएम) व अन्य शामिल हैं।

शिविर में दिनेश कुमार, शिवशंकर सिंह, भूपेंद्र सिंह, राकेश सिंह, प्रेम झा, धर्मेंद्र प्रसाद, संतोष ठाकुर, अजय सिंह, बबलू गोप, बिमल बैठा, राहुल तिवारी, शशि यादव समेत शहर के कई गणमान्य लोगों ने शिरकत की। शिविर को सफल बनाने में नाम्या स्माइल फाउंडेशन के निकिता मेहता, अमीश मेहता, निधि केडिया, पूर्णेन्दु पात्र, सतप्रित सिंह, धवल सेठ, अतुल अमिस्ट, सूर्या राव, निर्मल कुमार, प्रशांत कुमार, पूर्णेदु आचार्य, बबन बैनर्जी समेत अन्य सदस्यों का योगदान रहा।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker