FeaturedJamshedpurJharkhand

कोलहान के किस विधायक के सर पर सजेगा मंत्री का ताज, कोलहान से तीन विधायक को मंत्री बनाने का मांग पकड़ने लगी जोर,हो समुदाय की मांग हो विधायक को बनाये मंत्री बनाये

चाईबासा।कोल्हान प्रमंडल के सभी झामुमो व कांग्रेस के विधायक मंत्री बनाने की लॉबी शुरू कर दी है. विश्वस्त पार्टी सूत्रों की मानें तो ईसाई और हो कॉम्बिनेशन को साधने के लिए सिंहभूम जिला के मझगांव विधायक झामुमो के कद्दावर नेता निरल पूर्ति को मंत्री बनाए जाने पर पार्टी में गंभीरता पूर्वक विचार किया जा रहा है. वहीं हैट्रिक बनाने वाले चाईबासा के तेज तर्रार विधायक दीपक बिरूआ को भी मंत्री बनाने के लिए कोल्हान के तीन विधायकों द्वारा प्रयास करने की चर्चा है. कांग्रेस पार्टी के कोल्हान के एक मात्र हो जाती के एसटी कोटा के जगन्नाथपुर विधायक सोना राम सिंकु को मंत्री बनाने के लिए कोड़ा दंपति के द्वारा लॉबी किया जा रहा


है.आदिवासी सामाजिक संगठन हो महासभा और मानकी मुंडा संघ के द्वारा कोल्हान के हो आदिवासी विधायक को मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन सरकार में मंत्री बनाने की मांग किया गया हैं. अब देखना है कि दोनो मुख्य पार्टी अपने राजनीतिक लाभ के लिए हो बाहुल्य क्षेत्र के आदिवासियों को खुश करने के लिए झारखंड की नई चंपाई सरकार में मंत्रीमंडल में जगह दिया जाएगा या नहीं ! इन सभी बिंदु पर कोल्हान में चर्चा जोरों से हो रही है. चर्चा यह भी है कि चंपाई सोरेन के नजदीकी निरल पूर्ति को मंत्री बनने की उम्मीद अधिक है.
हैट्रिक लगाने वाले विधायक दीपक बिरूआ को भी पार्टी द्वारा नजर अंदाज करना महंगा पड़ सकता है. कोल्हान में झामुमो के विधायकों की आपसी खींचतान में मंत्री का सपना साकार होने पर भी बडा़ सवाल खडा़ हो रहा है. इससे महागठबंधन एवं झामुमो का शीर्ष नेतृत्व भी काफी परेशान है. दूसरी तरफ झारखंड में मधु कोड़ा और सांसद गीता कोड़ा को कांग्रेस नज़र अंदाज़ नहीं करना चाहती है.हलांकि विधायक निरल पुरती और दीपक बिरूवा दोनों ही झामुमो से अतें है और राष्टीय कांग्रेस पार्टी से एक मात्र हो विधायक सोनाराम सिंकु है।अब नये मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन के पास बिकट स्थिति आन पड़ी है किसे मंत्री पद से सुसोभित करें।वहीं सोनाम सिंकु भी एक मजबुत दावेदारी में है और कोल्हान से एक मात्र सहयोगी दल के बिधायक है।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker