FeaturedJamshedpurJharkhandNational

20 जनवरी को होने वाले अनिश्चितकालीन आमरण अनशन की तैयारी का जायजा लेने कांड्रा पहुँचे पूर्व सीएम मधु कोड़ा एवं सांसद गीता कोड़ा

कांड्रा । 20 को होने वाले कार्यक्रम को लेकर स्थानीय लोगों के साथ की समीक्षा .आपको बताते चले की कोरोना से रेलवे ने फरमान जारी कर कांड्रा जंक्शन में पूर्व की भांति जो ट्रेन जैसे टाटा दुर्ग अप एंड डाउन, टाटा छपरा कटिहार लिंक एक्सप्रेस, हटिया हावड़ा क्रिया योगा एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव था परंतु कोरोना समाप्ति के बाद भी अब तक ट्रेनों का पुनः ठहराव नहीं होना जनता के लिए बहुत असुविधा का कारण बनता जा रहा है कई वर्षों से रेलवे के साथ पत्राचार धरना और रेल चक्का जाम का नेतृत्व करने वाले पूर्व सांसद प्रतिनिधि प्रकाश कुमार राजू ने रेलवे के सभी पदाधिकारी से आग्रह पूर्ण कहा है कि हमारी 15 सूत्री मांग को जल्द से जल्द रेलवे पूरी करें अगर यह मांगे 19 जनवरी तक नहीं पूरी की जाती है तो 20 तारीख को सुबह 10:00 बजे से सामूहिक रूप से अनिश्चितकालीन आमरण अनशन यहां के प्रबुद्ध नागरिकों और समाजसेवीयों के द्वारा किया जाएगा और यह अनशन अनिश्चितकालीन होगा जब तक हमारी मांग पूरी नहीं की जाएगी तब तक हम अनशन से नहीं उठेंगे.इसी क्रम मे कांग्रेस की तेज तर्रार सांसद गीता कोड़ा झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधुकोड़ा ने कांड्रा स्टेशन आकर यहां की जनता, यात्री , स्थानीय व्यवसायी और टेंपो संगठन के पदाधिकारी एवं टेंपो चालकों के साथ उनकी समस्याओं पर विचार विमर्श किया .सभी ने यहां की जन मुद्दों की ओर ध्यान आकृष्ट कराते हुए कहा कि ट्रेन का ठहराव नहीं होना व्यवसाय पर भी गहरा प्रभाव डाल रहा है कांड्रा से लगभग 115 टेंपो चलने का कार्य करते थे लेकिन अब मात्र 40 से 50 टेंपो ही शेष रहे हैं जो अभी चल रहे हैं और उनके भी हालत धीरे-धीरे खराब होते जा रही है .यदि यहां ट्रेनों का ठहराव पूर्व की भांति होती है तो यहां बेरोजगारी की जो समस्या है उस पर अंकुश लगाया जा सकता है .यहां पर कंप्यूटर कृत आरक्षण का समय बढ़ाने के लिए, रविवार को आरक्षण बहाल करने के लिए, शौचालय को जल्द से जल्द चालू करने के लिए, दोनों प्लेटफार्म पर एक-एक बड़े आकार का शेड बनाने के लिए , दोनों प्लेटफार्म पर टी स्टॉल का व्यवस्था देने के लिए, अंदर बने शौचालय की साफ सफाई करने के लिए , टाटा दानापुर आरा एक्सप्रेस के ठहराव के लिए, जम्मू तवी एक्सप्रेस के ठहराव के लिए और कांड्रा से जयनगर दरभंगा के लिए एक नई ट्रेन का परिचालन शुरू करने की मांग को जोर-शोर से रखा है. इधर ग्रामीणों ने सांसद से आग्रह किया कि अंडरपास नहीं होने के कारण हम लोगों को 2 किलोमीटर की दूरी ज्यादा तय करके आनी पड़ती है इधर बानाडूंगरी से काली मंदिर तक सड़क नहीं होने के कारण गाड़ी का आवागमन में बहुत कठिनाई होती है खासकर मरीज को लेकर जाना और आना उनके लिए काफी कष्टदायक होता है। आपको बताते चले कि पूर्व सांसद प्रतिनिधि प्रकाश राजू ने कहा कि कांड्रा की जनसंख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है जगह की कमी होने के कारण आने वाले दिनों में हम लोगों को विवाह जैसे शुभ कार्य के लिए भी पंडाल बनाने के लिए जगह नहीं मिलेगा. रेलवे के पास उचित जगह है वहां पर विवाह मंडप का निर्माण करवाया जाए जैसे चांडिल में रेलवे कैंपस के अंदर विवाह मंडप बनाया गया है इस प्रकारकांड्रा जंक्शन में भी विवाह मंडप बनाने का रेलवे कार्य करें ताकि यहां के स्थानीय लोगों को सुविधा हो सके और रेलवे को राजस्व का लाभ मिल सके. इधर टेंपो संगठन के पदाधिकारी ने सांसद गीता कोड़ा से कहा कि पार्किंग नहीं होने के कारण हम लोगों को काफी असुविधा होती है .आए दिन रेलवे के स्टाफ से हमारी कहासुनी होती रहती है वह भी अपनी जगह में सही और हम लोग भी अपने जगह सही है. आपसी तालमेल बिगड़ रहा है इसको देखते हुए रेल प्रशासन से जल्द से जल्द पार्किंग की सुविधा बहाल करने के लिए सांसद गीता से आग्रह किया गया. सांसद गीता कोडा ने आश्वासन दिया कि आने वाले दिनों में जल्द से जल्द डीआरएम चक्रधरपुर ,जीएम गार्डन रीच कोलकाता और रेल मंत्री से मिलकर इस समस्या का समाधान हेतु बात की जाएगी. 20 से पहले यदि मांग रेलवे नहीं मानती है तो आमरण अनशन होने के बाद इससे भी बड़ा आंदोलन के लिए हम लोग तैयार हैं . रेलवे को चाहिए कि जल्द से जल्द कांड्रा की जनता की मांग को पूरी करें ताकि यात्री सुविधा बहाल होने के साथ-साथ रेलवे को भी राजस्व का लाभ मिल सके.वही इस दौरान मुख्य रूप से पूर्व सांसद प्रतिनिधि प्रकाश कुमार राजू, समाजसेवी डा0 जोगेन्दर प्रसाद, दिवाकर मिश्रा( मनोज) , समाजसेवी काशी नाथ कुम्भकार, जेबीकेएसएस के राहुल देव महतो ,राम प्रसाद पाल,रमा नन्द शर्मा,बसंत राम,सूर्य प्रकाश,अजय शुक्ला,महेश कालिंदी,दिपु रजक, वही कांड्रा टेम्पु एसोसिएसन के ननका साव ,सपन गोराई,सूरज रजक,नन्द प्रसाद यादव,ननका साव,आकाश लायक,देव व्रत गोराई समेत कांड्रा आरपीएफ प्रभारी अस्मित वर्मा भी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker