FeaturedJamshedpurJharkhandNational

सड़क पर दिखी झारखंडी संस्कृति की झलक

अगला सीएम टाइगर जयराम महतो की झांकी रही आकर्षण का केंद्र

सरायकेला /जमशेदपुर। रविवार को कुड़मी समुदाय की ओर से डहरे टुसू का आयोजन किया गया। गम्हरिया स्थित जमशेदपुर के पूर्व सांसद दिवंगत सुनील महतो की समाधि स्थल से डहरे टुसू की शुरुआत हुई जो जमशेदपुर आम बागान के लिए प्रस्थान हुई जमशेदपुर में डिमना से निकले। इसमें डीजे के धुन पर बच्चे- बढ़े। युवा सभी पारंपरिक टुसू नृत्य- संगीत पर जमकर नाच- गान करते नजर आए। जगह- जगह लोग डहरे टुसू में जुटते गए और करवा बनता चला गया। दस हजार से भी ज्यादा लोग अलग- अलग टुसू गानों पर नाचते गाते आगे बढ़ते गए, हालांकि इसमें भी राजनीतिक दूरियां नजर आई। कोई झारखंडी भाषा खतियान संघर्ष समिति के बैनर तले, तो कोई छोटा नागपुर कुड़मी कला संस्कृति मंच के बैनर तले इसमें शामिल हुए। इसके अलावा विभिन्न राजनीतिक दलों के लोगों ने भी शिरकत की। डहरे टुसू के झांकी शामिल चौड़ल में लिखा अगला सीएम टाइगर जयराम महतो मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा। बता दें कि 1932 खतियान आधारित नियोजन नीति को लेकर आंदोलित जेबीकेएसएस अब राजनीतिक जमीन तलाशने में जुटी है। इसको उसी कड़ी से जोड़कर देखा जा रहा है। इस दौरान सड़क पर ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी रही। यात्रियों को परेशानी न हो इसको लेकर जगह- जगह वन वे ट्रैफिक किया गया। आदित्यपुर थाना प्रभारी राजन कुमार, सब इंस्पेक्टर अविषेक कुमार जगह- जगह भीड़ को नियंत्रित करते नजर आए। वहीं ट्रैफिक प्रभारी राजेश कुमार लगातार ट्रैफिक को नियंत्रित करते देखे गए। 3: 00 बजे तक डहरे टुसू का काफिला खरकई पुल पहुंचा। उसके बाद जमशेदपुर सीमा में प्रवेश कर गया। जहां से डहरे टुसू का काफिला आम बागान के लिए निकला। इस दौरान पुलिस- प्रशासन की टीम मुस्तैद रही।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker