FeaturedJamshedpurJharkhandNational

लोयोला स्कूल में क्रिसमस समारोह मना

क्रिसमस की भावना प्रेम, उदारता और अच्छाई की भावना है। न केवल आनंद मनाने का बल्कि चिंतन का भी मौसम, साझा करने और देखभाल करने का मौसम। जमशेदपुर। क्रिसमस समारोह शुक्रवार को लोयोला स्कूल में बहुत खुशी और उत्सव के साथ आयोजित किया गया।
सीनियर क्लास के विद्यार्थियों ने एक सार्थक और मनोरंजक संगीत प्रस्तुत किया, जिसने क्रिसमस का सार्थक आध्यात्मिक संदेश दिया।
क्रिसमस समारोह वास्तव में कैरोल, नृत्य और नैटिविटी प्ले के मिश्रण के साथ एक रंगारंग कार्यक्रम था।
क्रिसमस का पर्याय, नैटिविटी सीन और सुंदर ढंग से बनाई गई चरनी के साथ नृत्य नाटक प्रस्तुत किया गया। जिसमें ईसा मसीह के जन्म की घटनाओं को दर्शाया गया था, जिसमें गायक मंडली द्वारा गाए गए मधुर कैरोल शामिल थे।
फादर रेक्टर केएम जोसेफ द्वारा क्रिसमस संदेश दिया गया। उन्होंने विद्यार्थियों को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी। प्रभु येशु मसीह के जीवन मूल्यों को अपनाने और भाईचारे और मानवता के मार्ग पर चलने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने क्रिसमस स्टार के महत्व के बारे में भी बताया और कहा कि यह सितारा हमें भगवान की ओर ले जाता है।
प्राचार्य फादर. विनोद फर्नांडिस ने धन्यवाद ज्ञापन किया। सांता क्लॉज के प्रवेश पर उत्साही विद्यार्थियों ने तालियां बजा स्वागत किया। कार्यक्रम का समापन पुराने कैलेंडर को ढकने एवं नए कैलेंडर से पर्दा हटाने के साथ हुआ।नए साल यह आयोजन बेहद सफल रहा।
कार्यक्रम के समापन पर विद्यार्थियों ने कहा कि क्रिसमस की भावना, प्रेम, उदारता और अच्छाई की भावना है। क्रिसमस केवल आनंद मनाने का नहीं बल्कि चिंतन-मनन कर जीवन में उतारने का है।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker