FeaturedJamshedpurJharkhand

भारत स्वाभिमान न्यास, पतंजलि योगपीठ की स्थापना दिवस वैदिक हवन, भजन, सत्संग, विचार गोष्ठी और प्रतिदिन योग करने और कराने के शिव संकल्प के साथ संपन्न

जमशेदपुर। बड़ा हनुमान मंदिर मानगो, जमशेदपुर में पतंजलि जिला इकाई द्वारा भारत स्वाभिमान न्यास व पतंजलि योगपीठ स्थापना दिवस वैदिक हवन, भजन, सत्संग, विचार गोष्ठी व प्रतिदिन स्वयं योग करने और सबको योग कराने के शिव संकल्प के साथ संपन्न हुआ। इस अवसर पर मुख्य अतिथि प्रसिद्ध आयुर्वेद चिकित्सक डॉ मनीष डूडिया ने उपस्थित साधकों को अपने संबोधन में कहा कि योग, यज्ञ, आयुर्वेद की परम पावन परंपरा को पतंजलि योगपीठ हरिद्वार द्वारा भारत के लगभग 600 जिलों में भारत स्वाभिमान न्यास के माध्यम से पुनर्स्थापित किया जा रहा है। इससे ही भारत के विश्व गुरु होने का मार्ग प्रशस्त होगा। भारत स्वाभिमान न्यास पूर्वी सिंहभूम के जिला प्रभारी अजय कुमार झा ने बताया कि पूर्वी सिंहभूम जिले के शहरी क्षेत्र और सभी प्रखंडों में पतंजलि के कार्यकर्ताओं द्वारा प्रतिदिन योग की निशुल्क कक्षाएं लगाई जाती है। योग, आयुर्वेद, वैदिक शिक्षा और स्वदेशी संकल्प के साथ जिले के गांव-गांव और शहर-शहर में पतंजलि के सेवाओं का विस्तार हम सभी कार्यकर्ताओं का परम ध्येय है। इस अवसर पर पतंजलि योग समिति के जिला प्रभारी कृष्ण कुमार, युवा प्रभारी नरेंद्र कुमार, किसान प्रभारी बिहारी लाल, यज्ञ प्रभारी आशुतोष कुमार झा और पतंजलि मार्गदर्शक मंडली के अध्यक्ष वरिष्ठ योग शिक्षक उमापति लाल दास ने भी संबोधित किया। भारतीय संस्कृति के मनीषी राजकुमार मिश्रा द्वारा अष्टांग योग के माध्यम से मन को बहुर्मुखी से अंत: मुखी बनाने का मार्ग सुझाया गया। उन्होंने बताया कि हम सभी अष्टांग योग से जुड़कर मन को साध सकते हैं। इससे हमारा मन बहुर्मुखी से अंतर्मुखी होकर हमारे कल्याण का मार्ग प्रशस्त करेगा। अष्टांग योग का मार्ग प्रकाश मार्ग है। जिस तरह नदियां धरा से निकलकर समुद्र में मिलती है इस तरह योग के माध्यम से हमारी आत्म ज्योति परमपिता परमेश्वर की दिव्य ज्योति से मिल जाती है। धन्यवाद ज्ञापन बड़ा हनुमान मंदिर मानगो के योग प्रभारी विपिन कुमार और बबीता देवी ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम में आरती सिन्हा, कविता तिवारी, संजू सिंह, विभा चौधरी, लक्ष्मी रानी राय, डॉ. दिव्या पाण्डेय, अशोक शर्मा, मनोज श्रीवास्तव, अजय वर्मा, शिव प्रसाद सिंह, अमरनाथ, राजेश कुमार लाल, सुनील कुमार सिंह जवाहरलाल, गुलाब सिंह, राम वृक्ष निराला और सीमा देवी की गरिमामयी उपस्थिति रही।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker