FeaturedJamshedpurJharkhandNational

भारत और अमेरिका के बीच होगा पहला मुकाबला

रांची । झारखंड में आयोजित एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालिफायर का पहला मैच 13 जनवरी को भारत और अमेरिका के बीच खेला जाएगा। 14 जनवरी को दूसरा मैच अमेरिका और इटली के बीच एवं 16 जनवरी को तीसरा मैच भारत और इटली के बीच होगा।
एफआईएच हॉकी ओलंपिक क्वालीफायर टूर्नामेंट के आठ मैच रांची में मोराहबादी मैदान स्थित मरांग गोमके जयपाल सिंह स्टेडियम में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। महिला हॉकी टीम के कप्तान सविता पूनिया ने कहा यहां आकर हमेशा ही अच्छा लगता है। सब बहुत एक्ससीटेड है। यूएसए के साथ हमारा पहला मैच है। उसके लिए हम तैयार हैं। प्रैक्टिस मैच यही देखने के लिए होता है कि सुधार की क्या गुंजाइश है। पेरिस ओलम्पिक के लिए हमने बहुत मेहनत की है। बहुत कम समय में हमने बहुत कुछ सीखा है। ऐसे में हम क्वालीफाई करने की पूरी कोशिश करेंगे। ये टूर्नामेंट मुश्किल होने वाला है, क्योंकि हर टीम अपना बेहतर करना चाहेगी. हम भी अपना बेस्ट देंगे। वंदना कटारिया अनुभवी है और बेहतर खेलती है। उनकी कमी हमे महसूस होगी लेकिन उनके बड़के जो प्लेयर आई है वह भी बेहतर खेलती है।

वह आगे कहती है कि हम पूरी तरह से मैच पर फोकस करेंगे. हमारी स्ट्रेंथ अटैकिंग होती है और हम इसपर ही काम करेंगे. यूएसए के साथ मैच में आपको ये देखने को मिलेगा. कोच कहती है कि यहाँ सभी टीमें जितने आई है. उनकी स्पीड बेहतर है, हम उनका मुकाबला करने की कोशिश करेंगे. अपना भी बेहतर खेल दिखाएंगे. वह आगे कहती है कि ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करना आसान नहीं होने वाला है. हमने यहाँ एशियन ट्रॉफी खेली थी. हमे बहुत सपोर्ट मिला था. बस हमारी कोशिश रहेगी कि हम बेहतर खेले. वहीं सविता पुनिया कहती है कि जिस तरह से पिछली चैंपियनशिप में हमने जीत दर्ज की उसमें ऑडियंस का भी खूब सपोर्ट था. ये सपोर्ट हमारे लिए बेहतर है. लेकिन कहीं न कहीं यह हमारे ऊपर भी बेहतर खेल का दबाव होता है.

यूएसए, न्यूजीलैंड की स्ट्रेंथ हमें पता है. लेकिन हमारा फोकस अपने स्ट्रेंथ पर होगा. हम उसपर काम करेंगे. प्रैक्टिस अच्छी हो रही है. हमारा पूरा ध्यान अभी यूएसए स्व मैच खेलने पर है. कोच कहती है कि यूएसए एक बेहतर टीम है. यहाँ रैंकिंग से कोई फर्क नहीं पड़ता है. हम जानते हैं कि वह बेहतर खेलती है. हम उसी हिसाब से अपना बेस्ट देने की कोशिश करेंगे. टीम को मेंटल स्ट्रेस से बाहर निकलने के लिए भी हमारे पास कोच है. वह प्लयेरस से बात कर रहा है. वह जानता है कि सभी के ऊपर दबाव है. हम बस इससे निकलने की कोशिश कर रहे हैं और अपना गेम बेहतर करने की कोशिश कर रहे हैं।
भारतीय महिला हॉकी टीम कप्तान सविता पूनिया
जेनेक शॉपमैन।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker