FeaturedJamshedpurJharkhand

निजी सिक्योरिटी गार्ड को न्यूनतम वेतन दिलाए जाने की मांग को लेकर उप श्रमायुक्त को पुरेंद्र ने सौंपा ज्ञापन

जमशेदपुर । अधिकारियों की एक टीम बनाकर निजी सिक्योरिटी गार्ड को मिलने वाले वेतन की सघन जांच करके न्यूनतम मजदूरी बैंक खाते के माध्यम से मिलना सुनिश्चित किए जाने एवं निजी सिक्योरिटी गार्ड को न्यूनतम मजदूरी से कम वेतन देने वाले एजेंसी तथा नियोक्ता पर श्रम विभाग के नियमानुसार कार्रवाई किए जाने की मांग को लेकर आदित्यपुर- गम्हरिया विकास समिति का एक प्रतिनिधिमंडल ने आदित्यपुर नगर परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष एवं प्रदेश महासचिव राजद सह प्रभारी पूर्वी सिंहभूम पुरेंद्र नारायण सिंह के नेतृत्व में उप श्रमायुक्त कोल्हान श्री राकेश प्रसाद से मिलकर एक ज्ञापन सौंपाl

पुरेंद्र नारायण सिंह ने उप श्रमायुक्त को बताया कि औद्योगिक इकाइयों, वाणिज्यिक संस्थानों एवं अन्य स्थानों पर कार्यरत निजी सिक्योरिटी एजेंसी का शोषण चरम सीमा पर हैl इसके लिए एक तरफ जहां एजेंसी जिम्मेवार है, वही नियोक्ता भी कम जिम्मेवार नहीं हैl

उन्होंने उप श्रमायुक्त से कहा कि 90% निजी सुरक्षा एजेंसी अपने सुरक्षा कर्मियों को न्यूनतम वेतन भी नहीं देती है, उलटे 8 घंटा के बदले 12 घंटे काम लेती हैl नौकरी से हटाए जाने और कोई दूसरे एजेंसी में काम नहीं मिलने के डर से निजी सुरक्षा गार्ड शिकायत नहीं कर पाते हैंl अगर कोई निजी सुरक्षा गार्ड न्यूनतम मजदूरी की शिकायत करता है, तो ज्यादातर मामलों में श्रम विभाग के पदाधिकारी एजेंसी मालिकों एवं नियोक्ताओं से मिलकर कानूनी दाव पेंच का चक्कर लगवाकर शिकायतकर्ता को समझौते के लिए मजबूर कर देते हैंl पुरेंद्र नारायण सिंह ने बतलाया कि न्यूनतम मजदूरी नहीं दिए जाने के मामले में निजी सुरक्षा एजेंसियों से ज्यादा ज्यादातर मामलों में नियोक्ता जिम्मेवार हैl क्योंकि जानकारी मिल रही है कि नियोक्ता एजेंसियों को न्यूनतम मजदूरी और सर्विस चार्ज नहीं देते हैंl

प्रतिनिधिमंडल में पुरेंद्र नारायण सिंह के अलावे शिक्षाविद एस डी प्रसाद, ओमप्रकाश भगत, राजद प्रदेश सचिव देव प्रकाश, युवा राजद प्रदेश महासचिव शैलेंद्र कुमार, मिथिलेश कुमार झा शामिल थेl

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker