FeaturedJamshedpurJharkhandNational

टाटा स्टील गम्हरिया कंपनी के विवादित टाटा कामगार युनियन विवाद को समाप्त करायें झारखंड सरकार के श्रमायुक्त सह निबंधक

गम्हरिया/ टाटा स्टील कंपनी गम्हरिया पुर्व के (टाटा स्टील लौंग प्रोडक्ट लिमिटेड) कंपनी में कार्यरत कर्मचारी मजदूरों का कहना है कि दस माह बीत जाने के बाद भी विवादित टाटा कामगार यूनियन विवाद के मामले में ना जाने किस दवाब कारण अबतक श्रमायुक्त सह निबंधक श्री संजीव कुमार बेसरा कोई ठोस निर्णय नहीं ले रहें हैं और ना ही आगे कोई कार्रवाई करने कि दिशा में पहल कर रहे हैं मामला दस माह से लंबित होने से विवादित टाटा कामगार यूनियन के पदाधिकारियों ने फायदा उठा कर चुनाव धांधली के विरोध करने वाले कार्यरत मजदूर कर्मचारियों को लालच एवं भय दिखला कर अपने पक्ष में करने एवं श्रम विभाग के पदाधिकारियों को गुमराह कर रजिस्टर (बी) में पंजीकृत कराने का हर संभव प्रयास कर रहा हैं धांधली कर बनें युनियन का निष्पक्षता पूर्ण चुनाव कराने के लिए आवेदन दें कर मुख्य शिकायत कर्ता रामचन्द्र दास दस माह से लगातार श्रम विभाग के रांची मुख्यालय श्रम भवन कभी जमशेदपुर श्रम विभाग कार्यलय का चक्कर काट रहे हैं और अब वह दिनांक 18/10/2023 को सेवा निवृत्त भी हो गये है उन्होंने बताया कि टाटा कामगार यूनियन चुनाव में धांधली किये जाने का शिकायत जब वह श्रम दर्ज कराया था उस वक्त उनके साथ लगभग बीस कर्मचारी साथी थे जो अब पांच उनके साथ है जबकि तत्कालीन उपश्रमायुक्त जमशेदपुर और श्रम अधीक्षक जिला सरायकेला खरसावां के जांच में चुनाव में धांधली किया जाने का भी जांच रिपोर्ट बना कर मुख्यालय को भेजा दिया गया था अब श्रम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार अन्य युनियनों का भी ज्यादा कर्मचारी सदस्यों होने कि दावेदारी कर कंपनी में बहाल करने कि मांग होने का कारण निर्णय लेने में विलंब होना बता रहे हैं इस बात कि जानकारी होने पर रामचन्द्र दास एवं अन्य कर्मचारियों ने दिनांक 06/12/23, को श्रमायुक्त सह निबंधक और संयुक्त श्रमायुक्त सह उप निबंधक श्री राकेश प्रसाद उपश्रमायुक्त जमशेदपुर को आवेदन पत्र दें कर यह मांग किया है कि टाटा स्टील गम्हरिया में अन्य युनियनों के द्वारा भी अगर ज्यादा कर्मचारी सदस्य होने का दावेदारी हवाला देकर बहाल होने कि प्रयास कर रहे हैं तो उन सभी युनियनों में शामिल कर्मचारी सदस्यों का निष्पक्षता पूर्ण जांच कर स्पष्ट करते हुए पुनः टाटा कामगार यूनियन पदाधिकारियों पदों का प्रशासनिक देख-रेख में चुनाव करवा कर गरीब कर्मचारी मजदूरों के हित में न्याय संगत निर्णय करें ताकि टाटा स्टील गम्हरिया , में कार्यरत सभी गरीब मजदूर कर्मचारियों को टाटा स्टील के द्वारा तय निर्धारित सुविधाएं मिल सके ।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker