FeaturedJamshedpurJharkhand

चाईबासा में सखी मंडल की महिलाओं का प्रमंडल स्तरीय एक्सपोजर और क्षमता संवर्धन शिविर सह महिला महासम्मेलन संपन्न

130 करोड़ रूपये की परिसंम्पतियों का हुआ वितरण

चाईबासा। पश्चिम सिंहभूम जिला मुख्यालय स्थित खुटकट्टी मैदान मे सखी मंडल की महिलाओं का प्रमंडलस्तरीय एक्स्पोज़र व क्षमता संवर्धन -सह- महिला महासम्मेलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में प्रमंडल के तीनों ज़िले की SHG ग्रुप की महिलाएँ सम्मिलित हुई। कार्यक्रम की शुरुआत सभी गणमान्य अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रमंडलीय आयुक्त श्री मनोज कुमार ने कहा कि आज खूटकट्टी मैदान चाईबासा में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (DAY-NRLM) से जुड़ी सखी मंडल सदस्यों का एक्सपोजर व क्षमतावर्धन शिविर सह महासम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य सखी मंडल की महिला सदस्यों को सामाजिक, आर्थिक आत्मर्निभरता हेतु प्रेरित करना, विभिन्न आजीविका माध्यमों का एक्सपोजर देना, महिलाओं का क्षमतावर्धन और उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव लाना है। यह कार्यक्रम इन महिलाओं के लिए अपनी सफलता की कहानियों, सर्वोत्तम प्रथाएँ, चुनौतियों एवं सहकर्मियों से सीखने का अवसर प्रदान करेगा।उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत झारखंड स्टेट लाईवलीहुड प्रोमोशन सोसाईटी (जे.एस.एल.पी. एस.) का गठन किया गया है। सोसाईटी के गठन का मुख्य उद्देश्य राज्य से गरीबी उन्मूलन एवं आजीविका प्रोत्साहन हेतु विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों का लाभ गरीब परिवारों तक पहुंचाकर उनके जीवन में उल्लेखनीय बदलाव लाना है। जे.एस.एल.पी.एस. अपने लक्ष्य के मुताबिक विभिन्न सरकारी, गैर-सरकारी संस्थान एवं समुदाय के लोगों के साथ समन्वय बनाकर बदलाव लाने का कार्य कर रही है। कोल्हान प्रमण्डल के तीन जिलों क्रमशः पश्चिमी सिंहभूम, पूर्वी सिंहभूम एवं सरायकेला-खरसांवा में दीनदयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (DAY-NRLM) का सफल संचालन 2013 से किया जा रहा है। इस क्रम में प्रमण्डल के 38 प्रखण्डों के 580 पंचायतों में कुल 4577 ग्रामों में 43019 सखी मंडलों का निर्माण किया गया है। प्रमण्डल में कुल 3363 ग्राम संगठनो एवं 157 संकुल संगठनों का निर्माण किया गया है जिसके अंर्तगत 24864 सामुदायिक कैडर कार्यरत है।सामुदायिक संस्थान ग्रामीण गरीबों को वित्तीय, तकनीकी और विपणन संसाधनों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के गरीबों की गरीबी दूर करने के लिए एक सामूहिक मंच प्रदान करती है। आज इस कार्यक्रम के माध्यम से कोल्हान प्रमण्डल के 3842 समूहों को चक्रिय निधि (RF) एवं सामुदायिक निवेश निधि (CF) के रूप में कुल 20.89 करोड़ साथ ही बैंक क्रेडिट लिंकेज (CCL) के माध्यम से 4236 समूह को 109.39 करोड़ की राशि उपलब्ध करायी गई है। कृषि एवं ग्रामीण क्षेत्रों के आसपास उपलब्ध वनोपज आधारित आजीविका को बढ़ावा देने के लिए ग्रामीणों के ज्ञान में क्षमता वृद्धि एवं आजीविका के उन्नत योजना को अपनाना है, उत्पाद का एकत्रीकरण एवं मूल्य श्रृंखला को प्रोत्साहित करना है। महिलाओं को बेहतर आजीविका प्रदान करने हेतु एन.आर.एल.एम, एन.आर.इ.टी.पी, जायका (झिमडी) एवं महिला किसान सशक्तिकरण परियोजना के माध्यम से आजीविका के क्षेत्र में बदलाव लाने का प्रयास किया जा रहा है।जे एस एल. पी. एस. द्वारा प्रमण्डल में जोहार परियोजना के कुल 1004 उत्पादक समूह में उन्नत खेती, पशुपालन, मत्स्य पालन, सिंचाई, लघु वनोपज, मुर्गी पालन आदि गतिविधियों के द्वारा प्रमण्डल में महिला किसानों की आर्थिक सशक्तता को प्रेरित किया जा रहा है।जे. एस. एल.पी.एस. के द्वारा प्रमण्डल में फूलो झानो आशीर्वाद अभियान के तहत हड़िया दारू के निर्माण एवं बिक्री में लगे सखी मंडल के सदस्यों को आजीविका के वैकल्पिक साधन अपनाने एवं नए आय स्रोत उत्पन्न करने के लिए प्रमण्डल में कुल 2097 लाभुकों को सखी मंडल/ग्राम संगठन / संकुल संगठन के द्वारा कुल 147.99 लाख की राशि उपलब्ध करायी गई है। ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा प्रमण्डल की महिला शक्ति को ग्रामीण अर्थव्यवस्था के मार्केट लीडर के रुप में स्थापित कराने हेतु प्रमण्डल की विशिष्ट संस्कृति एवं सामूहिक ऊर्जा के प्रतीक राजकीय पुष्प ‘पलाश’ के नाम से पलाश ब्रांड का सृजन किया गया है। ग्रामीण विकास विभाग के इस पहल अंतर्गत प्रमण्डल के सखी मंडलों के द्वारा निर्मित समस्त उत्पादों को पलाश के नाम से एक ब्राण्ड में समाहित कर बड़े बाजार से जोड़ने की शुरुआत की गई है। ‘पलाश’ उत्पाद प्राकृतिक अव्ययों एवं प्रक्रिया से निर्मित, पर्यावरण संरक्षण एवं स्थानीय पारिस्थिति की संतुलन के प्रति कटिबध्द, शुध्दता के समानार्थी, गुणवत्ता में अग्रेत्तर तथा बाजार मूल्य में स्वस्थ प्रतिस्पर्धी के रूप में स्थापित किये जा रहे है।
इस कार्यक्रम में अपने क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने वाले स्वंय सहायता समूह, ग्राम संगठন, संकुल संगठन एवं स्वंय सहायता समूह के सदस्यों को उनके कार्य क्षेत्र अंतर्गत सम्मानित किया जायेगा।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मनोहरपुर विधानसभा क्षेत्र की विधायक श्रीमती जोबा माझी ने कहा कि हमारे राज्य की महिलाओं के लिए माननीय मुख्यमंत्री श्री चंपई सोरेन जी का संदेश हम सभी ने सुना उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने महिला शक्तिकरण के लिए कार्य किया हैं। आज SHG ग्रुप की महिलाएँ के द्वारा बेहतर कार्य किए जाने वालों को जिला प्रशासन के द्वारा सम्मानित भी किया जा रहा। आज के दौर में महिलाएँ अपने घर के साथ साथ समाज में भी अपना बेहतर योगदान स्थापित कर रही है। महिलाओं के जीवन को और बेहतर करने के लिए हमारी सरकार लगातार कार्यरत है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जगन्नाथपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक सोनाराम सिंकु ने महिला सशक्तिकरण पर अपने विचारों को रखा और कार्यक्रम के अंत में जिला उपायुक्त अन्यय मित्तल के द्वारा धन्यवाद ज्ञापन करते हुए सभी को धन्यवाद किया गया। कार्यक्रम में पुलिस उप महानिरीक्षक कोल्हान क्षेत्र अजय लिंडा, चाईबासा विधानसभा क्षेत्र के विधायक दीपक बिरूवा, मझगांव विधानसभा क्षेत्र के विधायक निरल पूरती, खरसांवा विधानसभा क्षेत्र के विधायक दशरथ गगराई, चक्रधरपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक सुखराम उराँव, पुलिस अधीक्षक पश्चिम सिंहभूम आशुतोष शेखर, उप विकास आयुक्त पश्चिम सिंहभूम संदीप कुमार मीणा सहित अन्य मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker