FeaturedUttar pradesh

घूरपुर में नही थम रहा मिलावटी दूध का धंधा , खाद्य विभाग जिम्मेदार

नेहा तिवारी
घूरपुर(प्रयागराज)। घूरपुर क्षेत्र में गांवों से दूध लाकर बिक्री करने वाले दूधिया दूध में पानी ही नही बल्कि उसकी क्रीम भी निकलने के बाद उसमें केमिकल निरमा पाउडर के अलावा अरारोट मिलाकर घर – घर बीमारी बाटने का काम कर रहे हैं । इनकी ओर किसी की निगाह नही पड़ रही है । जानकारी के अनुसार घूरपुर क्षेत्र में दर्जनों की संख्या से ज्यादा दूधिया किसानों से दूध लाकर दूध बेचने का काम करते है । लेकिन दूधिया दूध को घूरपुर में लाने के बाद पहले उस दूध की क्रीम को निकलवा लेते है फिर उसमें केमिकल निरमा पाउडर अरारोट आदि की मिलावटी करके उस दूध को मोटा करते है इस मिलावटी दूध को तैयार करने के बाद इसको घर – घर जाकर अपने – अपने ग्राहकों को पहुंचाने का कार्य करते है । तथा अंत मे जो दूध शेष बचता है उसे चाय बनाने वाले दुकानदारो को दे देते है । अगर दूध की मात्रा ग्राहकों को देने के लिए कम पड़ती हो तो उसमें अपनी इच्छानुसार पानी भी मिला देते हैं और दूध की मात्रा को पूरा कर लेते है । इस तरह से जहरीला दूध बनाकर बिक्री करने वाले इन दूधियाओं की तरफ खाद्य निरीक्षकों की निगाह नही जा रही है । यह सभी दूधिया दूध के नाम पर जहर बेंच रहे हैं और घर – घर बीमारी की दावत बांट रहे है । खाद्य विभाग के जिम्मेदारों की चुप्पी से इनके हौसले बुलंद है । इनके द्वारा दूध का सेवन करने वाले लोग आए दिन बीमार होते रहते है । क्योकि यह बीमारी होते रहते है । चूंकि यह बीमारी धीरे – धीरे लोगों में अटैक करती है और एक दिन बड़ी बीमारी का रुप ले लेती है । जिससे आम आदमी परेशान हो जाता है । अगर खाद्य निरीक्षक तनिक भी अपनी निगाह टेडी कर ले तो सबका जीवन सुरक्षित रह सकता है । और लोग परेशानी से बच सकते है ।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker