FeaturedJamshedpurJharkhandNational

केंद्रीय पेट्रोलियम, गैस और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी से भाजपा प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी ने दिल्ली में की मुलाकात

बढ़ते शहरीकरण और औद्योगिक विस्तारीकरण पर ग्रेटर जमशेदपुर बनाने की दिशा में पहल करने की मांग की, पीएम उज्ज्वला योजना की निगरानी और क्रियान्वयन पर भी की चर्चा

जमशेदपुर। भाजपा झारखंड प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी इन दिनों दिल्ली प्रवास पर हैं। शुक्रवार को प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी ने केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री, आवास और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पूरी से नई दिल्ली में मुलाकात की। मुलाकात के क्रम में कुणाल षाड़ंगी ने केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पूरी से पुर्वी सिंहभूम जिले और लौहनगरी जमशेदपुर के भविष्य की योजनाओं और झारखंड में उज्ज्वला योजना के सफल क्रियान्वयन के सदंर्भ में व्यापक चर्चा की। कुणाल षाड़ंगी ने जमशेदपुर शहर की बढ़ती आबादी, ट्रैफिक, अतिक्रमण और हो रहे औद्योगिक विस्तारीकरण पर ध्यान आकृष्ट कराते हुए केंद्र सरकार द्वारा एक नए जमशेदपुर बनाने की दिशा में पहल करने का आग्रह किया। कुणाल षाड़ंगी ने कहा कि भारत की वर्तमान जनसंख्या की लगभग 31% आबादी शहरों में बसती है। एक आकलन के अनुसार आगामी 10 वर्षों में शहरी क्षेत्रों में देश की आबादी का 40% निवास होगा। इसके लिए भौतिक, संस्थागत, सामाजिक और आर्थिक बुनियादी ढांचे के व्यापक विकास की आवश्यकता है। उन्होंने जमशेदपुर के संदर्भ में बताया कि जमशेदपुर में दो शहर बसते हैं, जिसमें दो तरह की व्यवस्थाएं चलती है। एक व्यवस्था कंपनी कमांड क्षेत्र के अधीन बस्तियों में हैं और एक गैर-कंपनी कमांड क्षेत्र की बस्तियों में है। दोनों क्षेत्र की व्यवस्थाओं और मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति में बहुत बड़ा अंतर है। एक ओर जहां, कंपनी क्षेत्र की बस्तियों में सभी नागरिक सुविधाएं बहाल है तो वहीं, दूसरी ओर गैर कंपनी क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति, पेयजल, सड़क और साफ-सफाई जैसी अन्य बुनियादी सुविधाओं का घोर आभाव देखने को मिलता है। कुणाल षाड़ंगी ने बताया कि जमशेदपुर में बढ़ते शहरीकरण और औद्योगिक विस्तारीकरण के साथ नए निर्माण कार्य जारी है तो क्यों ना एक सुरक्षित और बेहतर शहरी भविष्य के लिए अभी से कार्ययोजना बनाई जाए। कुणाल षाड़ंगी ने केंद्रीय मंत्री से कंपनी और गैर-कंपनी क्षेत्र के अंतर को पाटने की दिशा में इसे महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि भविष्य को ध्यान में रखकर देश में नया भोपाल, नया रायपुर, नई दिल्ली जैसे अनेकों शहर विकसित हुए हैं। ऐसे में केन्द्र सरकार नए जमशेदपुर बनाने की दिशा में पहल करते हुए आवास बोर्ड के माध्यम से जमीन अधिग्रहण कर सभी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति कर एक नए शहर का निर्माण करें तो निश्चित रूप से यह ना केवल आम लोगों की जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाएगा, बल्कि निवेश को आकर्षित करने, समग्र विकास एवं प्रगति की दृष्टि से भी यह महत्वपूर्ण कदम साबित होगा। प्रदेश प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी ने बताया कि तेज़ी से हो रहा शहरीकरण स्थानीय क्षमताओं को बाधित कर रहा है, इसके साथ ही लोग दलालों से औने-पौने दाम पर जमीन खरीद रहे हैं। ऐसे में एक नए जमशेदपुर की कल्पना भविष्य में भी गुणवत्तापूर्ण जीवन की संकल्पना को बनाए रखने में कारगर साबित होगी।

वहीं, पूर्व विधायक कुणाल षाड़ंगी ने झारखंड राज्य समेत पुर्वी सिंहभूम जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के पूरी निगरानी करने की बात कही। उन्होंने कहा कि कई गांवों में उज्ज्वला योजना का लाभ ग्रामीणों को नही मिल रहा है। इसके लिए झारखंड राज्य में उज्जवला योजना के लाभुकों की सूची की पुनः समीक्षा कर मिशन मोड में मैपिंग कर पहल करने का आग्रह किया।

केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री, आवास और शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने कुणाल के सुझावों पर जरूरी समीक्षा करने और उचित कार्रवाई करने का भरोसा दिया है।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker