FeaturedJamshedpurJharkhandNational

उपायुक्त मंजूनाथ भजन्त्री की अध्यक्षता में हुई जिला तंबाकू नियंत्रण एवं निगरानी समिति की बैठक

तंबाकू विक्रेताओं के विरूद्ध चलायें सघन जांच अभियान

तंबाकू का सेवन करना खतरनाक, जिलेवासी अपनी स्वास्थ्य सुरक्षा का रखें ध्यान : उपायुक्त

जमशेदपुर। जिला दण्डाधिकारी-सह- उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजन्त्री की अध्यक्षता में तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत जिला तंबाकू नियंत्रण एवं निगरानी समिति की बैठक ऑनलाइन माध्यम से आयोजित की गई। बैठक में तंबाकू नियंत्रण के प्रति किए गए प्रभावी उपायों की समीक्षा की गई। इस क्रम में राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत स्कूलों में जागरूकता कार्यक्रम, प्रशिक्षण, तंबाकू मुक्ति केंद्र एवं तंबाकू के दुष्परिणामों के प्रति लोगों में जागरूकता लाने हेतु IEC प्रदर्शन, नुक्कड़ नाटक तथा व्यापक प्रचार की समीक्षा की गई।

युवा हमारे देश का भविष्य, तंबाकू सेवन से खुद को दूर रखें

जिला दण्डाधिकारी सह उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजन्त्री ने कहा कि तंबाकू के सेवन से गंभीर स्वास्थ्य समस्या उत्पन्न होती है। युवा वर्ग में एक बड़ा तबका विशेषकर 8वीं कक्षा से ऊपर के युवा पीढ़ी तंबाकी सेवन के शिकार हैं, जिसके कारण आगे उन्हें गंभीर बीमारियों की शिकायत हो सकती है। उन्होंने युवाओं से अपील किया कि तंबाकू सेवन से खुद को दूर रखें तथा अपने दोस्तों को भी तंबाकू का सेवन नहीं करने के लिए प्रेरित करें।

कानून की सख्ती नाकाफी, आम जनमानस का जागरूक होना जरूरी

जिला दण्डाधिकारी सह उपायुक्त ने कहा कि तंबाकू नियंत्रण कानूनों का सख्ती से पालन करते हुए तंबाकू के उपयोग पर रोकथाम तो लगाया जा सकता है लेकिन इसके उपयोग को पूर्णत: बंद करने के लिए आमजनों को भी जागरूक होते हुए समाजहित में आगे आना होगा। उन्होंने बैठक में तंबाकू सेवन से होने वाले दुष्परिणामों के बारे में लोगों को, विशेषकर युवा पीढ़ी को जागरूक करने की आवश्यकता पर बल दिया ।

जिला दण्डाधिकारी सह उपायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि तंबाकू नियंत्रण कानूनों के उल्लंघन के खिलाफ नियमित रूप से छापेमारी करें । नियमों का उल्लंघन करने वालों पर नियमानुसार कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने शिक्षा विभागीय पदाधिकारी को स्कूल एवं कॉलेज के बच्चों के बीच तंबाकू के दुष्परिणामों के बारे में जानकारी साझा करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने सभी जिला स्तरीय एवं प्रखंड स्तरीय सरकारी कार्यालय में कोटपा अधिनियम 2003 के तहत साइनेज बोर्ड मुख्यद्वार पर प्रदर्शन करने का निर्देश भी दिया ।
बैठक में उप विकास आयुक्त मनीष कुमार, एसडीएम धालभूम श्री पीयूष सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ जुझार माझी, एसडीएम घाटशिला श्री सत्यवीर रजक, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, सभी एमओआईसी, बीईईओ व अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker