FeaturedJamshedpurJharkhandNational

आदिवासी हो’ समाज महासभा कला और सांस्कृतिक भवन हरिगुटु में आदिवासी हो’ समाज महासभा की बैठक में हुई समिक्षा

चाईबासा।आदिवासी हो’ समाज महासभा कला और सांस्कृतिक भवन हरिगुटु में आदिवासी हो’ समाज महासभा की बैठक जनवरी 27-28 में हुई वार्षिक अधिवेशन की समीक्षा में संबंध में केंद्रीय अध्यक्ष की अध्यक्षता में हुई। वार्षिक अधिवेशन में दोनों दिन मिलाकर वार्षिक अधिवेशन में कुल 87 दिऊरी शामिल हुए। और समाज के साधारण सदस्य तो सैंकड़ों में शामिल हुए। अधिवेशन में मूल रूप से मागे पर्व के संबंध में विभिन्न अनुष्ठानों के बारे में चर्चा संपन्न हुई। मागे पर्व के अनुष्ठानों में बोंडबोंजी, अनादेर, गौमारा, ओतेइली, हे:सकाम, गुरी-लोयो, मारंग पोरोब, बासी पोरोब, जतरा के रूप में मनाया जाता है। इस तरह से देखा जाये तो मागे पर्व में बोंडबोंजी से जतरा तक में 9 तरह के अनुष्ठान के कार्य संपन्न होते हैं। ये सभी अनुष्ठान सभी गाँव में एक समान नहीं मनाये जाते हैं, बल्कि अपने गाँव के दस्तूरों के आलोक में एक दूसरे से थोड़ी बहुत भिन्नता के साथ मनाये जाते हैं, जैसे कई गाँवों में अनादेर नहीं मनाया जाता है, तो कई जगह मनाया जाता है। कई पहलुओं पर व्यापक चर्चा हुई है, जिसे लिपिबद्ध करने के बाद प्रस्तुत किया जाएगा। तो वार्षिक अधिवेशन के रूप में अनुष्ठानों को एकरूप करने के दिशा में आदिवासी हो समाज महासभा ने पहला कदम बढ़ा दिया है, यह हो’ समाज के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है। सभी चर्चाओं और निर्णयों को लिपिबद्ध किया जा रहा है, और लिपिबद्ध करके पुन: दिऊरीयों के समक्ष रखा जाएगा। फिर निर्णय की शक्ल में समाज के बीच लाया जाएगा। केंद्रीय समिति की ओर से इस वार्षिक अधिवेशन में शामिल सभी प्रतिभागियों को धन्यवाद दिया गया।
उसके बाद महासभा ने केंद्रीय समिति के विभिन्न बैठकों की कार्यसूची भी जारी की। जिसमें कार्यकारिणी की बैठक प्रत्येक महीने की अंतिम रविवार होगी। प्रत्येक तीन महीने में महीने के अंतिम रविवार को केंद्रीय समिति की बैठक होगी। प्रत्येक छ: महीने में अजीवन सदस्यों के साथ बैठक होगी, जिसमें जीतने भी अनुषांगिक इकाइयाँ हैं उनकी गतिविधियों की समीक्षा भी की जायेगी। इस बीच हो’ समाज के बीच विभिन्न गतिविधियों संचालित होंगी, जिसमें 10 मार्च को मागे मिलन, अप्रैल में बा जुमलाए, तो मई तक में एक साहित्य सम्मेलन आयोजित होंगी। जून में होने वाली आजीवन सदस्यों के साथ बैठक में पिछले छ: महीने में महासभा और आनुषंगिक इकाइयों की कार्यों की समीक्षा और अगले साल की पूरी कार्ययोजना तय होगी। आज की बैठक में कार्यकारिणी के सोमा कोड़ा, बामिया बारी, चैतन्य कुंकल, मानसिंह समड, छोटेलाल तामसोय, हरीश समड, और केंद्रीय अध्यक्ष मुकेश बिरुवा उपस्थित थे। जिला अध्यक्ष विनोद संवैया को , ‘बा’ जुमलाए के संबंध में आवश्यक जिम्मेदारी सौंपी गई। —
छोटेलाल तामसोय
(संयुक्त सचिव) ,
अदिवासी हो समाज महासभा, केन्द्रीय समिति, चाईबासा।

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker